खाना खाने का सही तरीका और उसके नियम व सही समय क्या है | Khana Khane Ka Sahi Tarika

खाना खाने का सही तरीका और उसके नियम व सही समय क्या है | Khana Khane Ka Sahi Tarika

खाना खाने हमारे शरीर के लिए बेहद आवश्यक है क्योंकि यह हमें ऊर्जा प्रदान करता है। क्या आपने कभी सोचा है जो भोजन हम खाते हैं जो हमारे शरीर के लिए इतना आवश्यक है उसे खाने का कोई विशेष तरीका या नियम होता है क्या? भोजन करते समय हम किस प्रकार बैठते हैं, किस प्रकार का भोजन खाते हैं या किस समय और कितना भोजन खाते हैं यह सभी बातें हमारे स्वास्थ्य पर एक गंभीर प्रभाव डालती हैं। इन सभी बातों का उचित तरीके से ध्यान रखें हम भोजन से ज्यादा से ज्यादा ऊर्जा प्राप्त कर सकते हैं और ऐसा करने से हम रोगमुक्त भी रह सकते हैं।

हम इस आर्टिकल में खाना खाने का सही तरीका और उसके नियम व सही समय क्या है (Khana Khane Ka Sahi Tarika) बारे में जानकारी दें

खाना खाने का सही तरीका क्या है? – Khana Khane Ka Sahi Tarika

खाना खाने

इस संसार में हर प्राणी को भूख लगती है और हर प्राणी जीवित रहने के लिए भोजन ग्रहण करता है अब यह भोजन किसी भी रूप में हो सकता है। कुछ लोग खाने का बड़ा आदर करते हैं उसे पूजनीय मानते हैं जबकि कुछ लोग खाना खाने को एक नित्य क्रिया मानते हैं और खाना खाने में समय व्यर्थ ना करते हुए जल्दी-जल्दी भोजन खाते हैं या फिर कुछ लोग तो टीवी देखते देखते ही भोजन कर लेते हैं इसके साथ साथ ही आजकल की नई युवा पीढ़ी तो फोन चलाते चलाते भोजन खाती है। 

आजकल के समय में तो महिलाएं छोटे बच्चे को भी जब भोजन नहीं खिला पाती हैं तब उन्हें फोन पर कार्टून चला कर दे देती हैं और छोटे बच्चे फोन देखते-देखते खाना खाते हैं। क्या आप अंदाजा भी लगा सकते हैं कि यह कितना गंभीर विषय है तथा यह क्रियाकलाप छोटे बच्चों के जीवन पर क्या प्रभाव डालेगा?

भोजन ऐसी चीज है जो हमारे शरीर को ऊर्जा देती है आप स्वयं सोचिए कि कोई ऐसी चीज जो हमारे शरीर को ऊर्जा देती हो उसे ग्रहण करने का कोई उचित तरीका नहीं होगा क्या। हां, भोजन को ग्रहण करने का सही तरीका होता है यहां तक कि ग्रंथों और पुराणों में भी भोजन ग्रहण करने के सही तरीकों के बारे में बताया गया है।

भारत में लगभग 60% से ज्यादा लोग खाना खाने का सही नियम या सही तरीका नहीं जानते। जिस कारण वश उन्हे भविष्य में कई गंभीर बीमारियों का सामना करना पड़ता है। भोजन ग्रहण करने के सही तरीके और नियम को मुख्य रूप से निम्नलिखित तरीकों में विभाजित किया गया है। (भोजन करते समय हमें निम्नलिखित चीजों का ध्यान रखना चाहिए)

  • जिस अवस्था में हम भोजन खा रहे हैं क्या वह अवस्था सही है (आप भोजन खाते समय किस अवस्था में बैठे हुए हैं)
  • खाना कितना खाना चाहिए?
  • संतुलित या स्वस्थ भोजन क्या है?
  • खाना कब खाना चाहिए

उचित भोजन क्या है? – What is balanced diet in Hindi

स्वस्थ शरीर के लिए संतुलित आहार (Balanced Diet) लेना बेहद जरूरी होता है। संतुलित आहार सीधे तौर पर अच्छे स्वास्थ्य से जुड़ा हुआ है जो कि बीमारियों से उबरने या रोकने में हमारी मदद करता है। बैलेंस्ड डाइट ही है जो हमें कुपोषण की समस्या से भी बचाती है। अगर हम इस ओर सही तरीके से ध्यान नहीं देते हैं तो कई बीमारियों का जोखिम पैदा हो सकता है।

हालांकि ऐसा कोई एक खास तरीके का फूड मौजूद नहीं है जो शरीर को पूरा पोषण दे सके। ऐसे में हमें अपनी बैलेंस्ड डाइट यानि संतुलित आहार (Balanced Diet) के लिए कई सारे खाद्य पदार्थों की ज़रूरत होती है। ये ऐसे फूड प्रोडक्ट्स हों जिनमें सभी जरूरी पोषक तत्व मौजूद हों। सही डाइट प्लान (Right Diet Plan) आपकी उम्र, लिंग पर भी निर्भर करता है।

जहां बच्चों को पोषण की आवश्यकता उनके शारीरिक विकास के लिए होती है तो वहीं वयस्कों को सही पोषण की आवश्यकता उनके स्वस्थ शरीर के लिए होती है। वहीं गर्भावस्था (Pregnancy) की स्थिति में पोषण और डाइट प्लान (Diet Chart or Diet Plan) बदलना भी बेहद जरूरी होता है

खाना खाने की सही अवस्था क्या है? – What is the correct position for eating food in Hindi

खाना खाने की कोई भी विशेष सही अवस्था नहीं होती है परंतु हां खाना खाते वक्त कभी भी प्रकार कि जल्दबाजी नहीं करनी चाहिए और ना ही बहुत अकड़ कर बैठना चाहिए जब भी आप खाना खाने बैठे तब आराम से पूरी बॉडी को शांत होने दें रिलैक्स हो कर बैठे। और जब खाना खाए तब सिर्फ खाना खाने पर ही ध्यान दें। ऐसा ना करें कि जल्दी जल्दी खाना खाने और फिर किसी काम को करने लगे।

जब भी हम खाना खाते हैं तब हमें अपनी पूरी बॉडी को शांत होने देना चाहिए अपने दिमाग को शांत होने देना चाहिए और फिर खाना खाते समय आराम से आलती पालती मार कर बैठना चाहिए

कितना खाना खाना चाहिए? – How much food should be eaten in Hindi

हमारे आसपास कुछ ऐसे लोग जरूर होते हैं, जो वक्त चाहे कैसा भी, कुछ भी हो जाए वो 3 वक्त ही खाना खाएंगे। ऐसे लोगों के खाने की मात्रा, खाने का समय सब कुछ परफेक्ट करके ही खाते हैं। इन्हें खाने के बीच कुछ लाइट स्नैक्स खाना, एक्सट्रा ड्रिंक लेना बिल्कुल भी पसंद नहीं होता है। लोगों का मानना होता है कि दिन में 3 बार संतुलित मात्रा में खाना खाने से सेहत दुरुस्त रहती है। साथ ही पाचन क्रिया भी ठीक होता है। अगर, आप भी ऐसा ही करते हैं या सोचते हैं तो आपको थोड़ा सा रिसर्च करने की जरूरत है।

जानकारों का मानना है कि दिन में तीन बार खाने से ज्यादा बेहतर छोटी-छोटी मात्रा में 6-7 खाना है। स्नैकिंग डायटिशन के अनुसार दिन में कई बार खाने से बॉडी क्लॉक सही रहता है। दिन में कई बार खाना तो अच्छी बात है, लेकिन जो स्नैक्स आप ले रहे हैं वो हेल्दी होना बहुत जरूरी है। दरअसल, हमारी बॉडी को हर 2-3 घंटे में कुछ खाना चाहिए होता है, ऐसे में थोड़ी-थोड़ी मात्रा में फू़ड्स को कंज्यूम करना एक अच्छा ऑप्शन रहता है।

ऐसा माना जाता है कि कई बार थोड़ी-थोड़ी मात्रा में खाना खाने से फैट बर्न होने की क्षमता तेज हो जाती है। इस तरह से खाने से शरीर का मेटाबॉलिज्म पावर स्ट्रॉग होता है। ऐसा कहा जाता है कि डायटिंग करने वाले लोगों को छोटी-छोटी मात्रा में ही खाना खाना चाहिए। एक्सपर्ट्स की मानें तो 2-3 घंटें पर खाने की मात्रा को लेने से ब्लड शुगर लेवल नियंत्रित रहता है, जिससे शरीर में एनर्जी बनी रहती है। 

निष्कर्ष

इस आर्टिकल में खाना खाने का सही तरीका और उसके नियम व सही समय क्या है (Khana Khane Ka Sahi Tarika) बारे में जानकारी दि है

मैं आशा करता हूं कि आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया होगा अगर आपको हमारा आर्टिकल पसंद आता है या आपके कोई सवाल या सुझाव है तो आप हमें नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट कर सकते हैं धन्यवाद

,

Leave a Reply

Your email address will not be published.