लंड हिलाने से भी फायदे होते है अगर आप इस तरीके का इतेमाल करे तो

लंड हिलाने से भी फायदे होते है – दोस्तों जैसे की इंसान की उम्र बढ़ती जानी है, वैसे वैसे उसके हार्मोन्स लंड हिलाने से भी फायदे होते है भी उत्तेजित हो जाते है, और इंसान के सरीर के सेक्स की ज़रूरत महसूस होने लगती है, लेकिन उसे सेक्स करने के लिए कोई पार्टनर नहीं मिलता है तो वो किसी और तरीके से अपनी प्यास बुझा लेता है, जिससे कई वो हमेशा के लिए अपनी मरदाना ताकत खो देता है, लेकिन हम आपको ऐसा तरीका बताएंगे की आपका काम भी हो जाये और आपके शरीर के कोई नुक्सान भी न हो

लंड हिलाने से भी फायदे होते है अगर आप इस तरीके का इतेमाल करे तो

लंड हिलाने से भी फायदे होते है
लंड हिलाने से भी फायदे होते है

लंड हिलाने से भी फायदे होते है तरीका-

आपको जब भी मुठ मारने की तालाब लगे , आप एकांत जगह का प्रयोग करे क्योकि जहा आपको किसी के आने

  • कभी भी जल्दी जल्दी स्पीड से मुठ न मारे, आराम से धीरे धीरे मुठ मारे
  • जब भी मुठ मारे तेल का इस्तेमाल करे जिससे आपके उस्ताज़ की मालिश भी हो जाएगी  जो की बहुत ज्यादा फायदे Sex Solutions है
  • अगर तेल अवेलेबल न हो और आपका मूड बन गया है तो आप हिलाते समय थूक का इस्तेमाल करे ,सूखा कभी न हिलाये
  • दिन में 2 बार से ज्यादा न हिलाये
  • हिलने के बाद 15 मिनट आराम करे बिना आराम किये कही न जये इससे कमजोरी आती है

लंड हिलाने से भी फायदे होते है

मैस्टबेरशन एक सेक्सुअल एक्सप्रेशन

दुनिया भर की कई हेल्थ रिपोर्ट की स्डटी करें तो पता चलता है कि मैस्टरबेशन सेक्सुअली टेंशन को कम करने का सबसे अच्छा और हेल्दी तरीका है। हेल्थ प्रफेशनल्स के मुताबिक अपने प्राइवेट पार्ट को टच करना बेहद नैचरल है। ऐसे में मैस्टबेशन को सेक्सुअल एक्सप्रेशन के रूप में ही देखा जाना चाहिए।

आनंद में कोई कमी नहीं

पुरुषों के मुकाबले महिलाओं का ऑर्गेजम (चरम आनंद) ज्यादा कॉम्पलेक्स होता है। पुरुषों को सामान्यतः स्पर्म निकलते वक्त आनंद आता है। अधूरी उत्तेजना और गलत सेक्स टेक्नीक महिलाओं के ऑर्गेजम को कम करता है। वक्त से पहले स्पर्म का गिरना और फोरप्ले में कमी महिलाओं के आनंद को कम करता है।

मैस्टबेरशन एक सेक्सुअल एक्सप्रेशन

दुनिया भर की कई हेल्थ रिपोर्ट की स्डटी करें तो पता चलता है कि मैस्टरबेशन सेक्सुअली टेंशन को कम करने का सबसे अच्छा और हेल्दी तरीका है। हेल्थ प्रफेशनल्स के मुताबिक अपने प्राइवेट पार्ट को टच करना बेहद नैचरल है। ऐसे में मैस्टबेशन को सेक्सुअल एक्सप्रेशन के रूप में ही देखा जाना चाहिए।

आनंद में कोई कमी नहीं

पुरुषों के मुकाबले महिलाओं का ऑर्गेजम (चरम आनंद) ज्यादा कॉम्पलेक्स होता है। पुरुषों को सामान्यतः स्पर्म निकलते वक्त आनंद आता है। अधूरी उत्तेजना और गलत सेक्स टेक्नीक महिलाओं के ऑर्गेजम को कम करता है। वक्त से पहले स्पर्म का गिरना और फोरप्ले में कमी महिलाओं के आनंद को कम करता है।

मैस्टरबेशन पूरी तरह से सेफ

अपनी कामुकता को काबू में रखने के लिए मैस्टरबेशन पूरी तरह से सेफ प्रक्रिया है।

सेक्सुअली डिसफंक्शन पर काबू

यदि पुरुष या महिला सेक्सुअली डिसफंक्शन से पीड़ित हैं तो मैस्टरबेशन से कई चीजें समझ सकते हैं। यदि पुरुषों में सेक्स के दौरान वक्त से पहल स्पर्म गिरने की समस्या है तो मैस्टरबेशन को लर्निंट टूल की तरह इस्तेमाल कर सकते हैं। आप इसमें सीख सकते हैं कि खुद पर कंट्रोल कैसे किया जाता है।

मैस्टरबेशन से रात में अच्छी नींद

जब आप सेक्सुअल क्लाइमेक्स पर होते हैं और फील गुड जोन में पहुंच जाते हैं तो इसका मतलब यह हुआ कि हॉर्मोन्स निकल चुके हैं। जब ऑक्सिटॉक्सिन और एंडोर्फिन हॉर्मोन्स रिलीज हो जाते हैं, तब आप फील गुड जोन में होते हैं। मैस्टरबेशन के दौरान इन हॉर्मोन्स के निकल जाने के बाद आप बेफिक्र होकर बिना किसी बेचैनी के सोते हैं। अच्छी नींद अच्छी सेहत के लिए बेहद जरूरी है। बहुत ही थकाऊ दिन के बाद रात में अच्छी नींद के लिए मैस्टरबेशन एक शानदार प्रक्रिया है।

पॉजिटिव मेंटल लेवल के लिए मैस्टरबेशन

जब आप मैस्टरबेशन के दौरान क्लाइमेक्स पर होते हैं, तब एंडोर्फिन हॉर्मोन्स रिलीज होता है। इस हॉर्मोन्स के रिलीज के बाद आपकी बेचैनी खत्म होती है और आपको मानसिक शांति मिलती है।

CONCLUSION आज हमने क्या सिखा

यदि आपको आज के हमारे इस पोस्ट लंड हिलाने से भी फायदे होते है पढ़ने में कहीं पर भी कोई भी समस्या आई है या फिर आप हमें इस पोस्ट से संबंधित कोई भी सुझाव देना चाहते हैं तो आप हमें नीचे कमेंट करके जरूर बताएं। हम इसका जल्द से जल्द रिप्लाई देने की कोशिश करेंगे

Leave a Comment